Home / Disease Symptoms / बीपी लो होने के कारण, लक्षण, इलाज | Diet Chart & Low Blood Pressure Treatment in Hindi
Low BP Treatment in Hindi
Low BP Treatment in Hindi

बीपी लो होने के कारण, लक्षण, इलाज | Diet Chart & Low Blood Pressure Treatment in Hindi

कम रक्तचाप के लिए होम उपाय – Gharelu Nuskhe for Low BP in Hindi

हमारे शरीर में एक निश्चित रक्तचाप (Blood Pressure) है, इसे हाइपोटेंशन (hypotension) के रूप में भी परिभाषित किया जाता है। यह कम रक्तचाप – Low Blood Pressure (कम ब्लड प्रेशर) के नाम से बहुत लोकप्रिय है। इस स्तिथि में हृदय जितना काम बल हो सके उसकी सहायता से धमनियों से रक्त को बाहर निकलने की कोशिश करता है। कम रक्तचाप – Low Blood Pressure (कम ब्लड प्रेशर) कमजोर और विवंचित प्रणाली का एक परिणाम है।

कम रक्तचाप के कारण – BP Low Reasons in Hindi

कम रक्तचाप – Low Blood Pressure (बीपी लो) के कुछ प्रमुख कारण है :

  • दोषपूर्ण पोषण (faulty nutrition)
  • कुपोषण (malnutrition)
  • भावनात्मक अस्थिरता (emotional instability)
  • रक्त की हानि (loss of blood)
  • धीमी आंतरिक खून बहना (slow internal bleeding)

कम रक्तचाप के लक्षण – BP Low Symptoms in Hindi

  • कम रक्तचाप -Low BP (Low Blood Pressure) के सबसे सामान्य लक्षणो में शामिल है :
  • कमजोरी (weakness)
  • थकान (fatigue)
  • चक्कर आना (dizziness )

रक्तचाप को स्वाभाविक रूप से इलाज – BP Low Treatment at Home in Hindi

यदि किसी व्यक्ति में धमनियों का दबाव बहुत कम हो जाता है, तो भी व्यक्ति बेहोश हो सकता है। हालांकि, कुछ घरेलू उपचारों (home remedies) का उपयोग करके, निम्न रक्तचाप को स्वाभाविक रूप से इलाज (BP Treatment) किया जा सकता है। घर पर, कम रक्तचाप (Low Blood Pressure Treatment) का इलाज करने के बारे में जानने के लिए पढ़ें।

कम रक्तचाप के लिए होम उपाय – Low Blood Pressure Treatment in Hindi

Low Blood Pressure Diet in Hindi | Low Blood Pressure Diet Chart in Hindi | Diet for Low BP in Hindi

  • कम रक्तचाप के इलाज (Low Blood Pressure Treatment) के लिए सबसे अच्छा और सबसे प्रभावी घरेलू उपाय (home remedy) ज्यादा मात्रा में पानी पीना है। इसका कारण यह है कि निर्जलीकरण (dehydration) रक्त की मात्रा को कम करता है और रक्तचाप में एक बूंद की मात्रा में जाता है।
  • कम रक्तचाप से पीड़ित लोगों (Low Blood Pressure Patient) के लिए बीट्रोट का रस (Beetroot juice) फायदेमंद है तो, रोजाना दो बार एक कप में कच्चे बीट्रोट का रस का सेवन कीजिये।
  • काले कॉफी (strong black coffee) का एक कप तैयार करें और जब भी आपको लगता है कि आपका ब्लड प्रेशर कम है, तब इसका उपभोग करें।
  • 250 मिलीलीटर पानी में 15-20 ग्राम भारतीय स्पिकेनार्ड (Indian Spikenard) डाल कर उसे उबाल लें। अब इसे ठंडा कर दें। इसे एक दिन में तीन बार लीजिये।

BP Low Home Treatment in Hindi | BP Low solution in Hindi

  • अपने बाथटब को गुनगुने पानी के साथ भरें और इसमें एक किलो एपसॉम नमक (Epsom salt) जोड़ें। बिस्तर पर जाने से पहले, 20 मिनट के लिए स्नान कीजिये। इसके बाद अपने शरीर को ठंडी जगह में बेनकाब न करने की सावधानी बरतें।
  • पानी की कटोरी में, 7 बादाम भूनकर रातोंरात रखें। उन्हें छिले और एक पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को गुनगुने दूध (lukewarm milk) में जोड़ें और इसे पी लीजिये।
  • पानी की कटोरी लें और उसमें 30 किशमिश रातोंरात डाली रखे। उन्हें सुबह खाली पेट एक एक करके चूसो और बाद में पानी पी लीजिये।
  • पवित्र तुलसी (Holy basil) कम रक्तचाप का इलाज (curing low blood pressure) करने में प्रभावी ढंग से काम करती है। लगभग 15 पवित्र तुलसी के पत्तों को ले लो और उन्हें पीस ले। एक मलमिन कपड़े (muslin cloth) की मदद से मिश्रण को फ़िल्टर करें क्या यह एक खाली पेट पर, शहद के एक चम्मच के साथ सेवन करे।
  • अपने आहार में नमक, asafetida और फलों को शामिल करें। ये सभी रक्तचाप के स्तर को बहाल करने में फायदेमंद हैं।
  • कम रक्तचाप के उपचार (treating low blood pressure) में प्रोटीन, विटामिन सी और विटामिन बी में समृद्ध पदार्थ प्रभावी होते हैं।
  • व्यायाम, चलने, तैराकी और साइकिल चलाना रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने में फायदेमंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Big Boss is Watching !!