Home / Home Remedies / Bhukh Lagne Ke Gharelu Nuskhe in Hindi – Home Remedies
Bhukh Na Lagne Ke Gharelu Nuskhe in Hindi

Bhukh Lagne Ke Gharelu Nuskhe in Hindi – Home Remedies

Bhukh Lagne Ke Gharelu Nuskhe in Hindi : भूख न लगना अक्सर अस्थायी (temporary) और आम है। यह अक्सर चिंता, तनाव और अवसाद जैसे मनोवैज्ञानिक (psychological) कारणों से जुड़ा हुआ है।

कई चिकित्सक मुद्दों में वायरस या बैक्टीरियल संक्रमण, अवटु-अल्पक्रियता (hypothyroidism), क्रोनिक लिवर रोग, हेपेटाइटिस, किडनी की विफलता, हृदय की विफलता, मनोभ्रंश, और अन्य भी भूख न लगना के कारण बन सकते है। कुछ दवाओं का सेवन भी भूख न लगना का कारण बन सकते है।

भूख लगने (Bhukh Lagne) मे मदद करने के लिए कई घरेलू उपचार (Home Remedy) होते हैं जो भोजन को फिर से आनन्ददायक बनाते हैं।
भूख न लगना, खासकर जब इसके कारण आपका वजन भी घटता जा रहा हो तो इस स्तिथि में उचित उपचार के लिए किसी चिकित्सक (Doctor) से सम्पर्क करे।

Bhukh Lagne ke Gharelu Nuskhe in Hindi

1. आंवला

आंवला आपके पेट में गैस की सभी समस्याओं को दूर कर के भूख को बढ़ाने में मदद कर सकता है। यह एक टॉनिक के रूप में काम करता है, पाचन तंत्र में सुधार करता है और पाचन तंत्र की सभी समस्याओं को भी दूर करता है। अगर आपको उलटी भी आ रही हो तो आंवला को शहद के साथ लीजिये, बहुत ज्यादा लाभकारी होता है।

आँवला इसके अलावा, विटामिन सी (Vitamin C) की कमी को ख़तम करता है। विटामिन सी (Vitamin C) पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है।

  • एक कप पानी में दो चम्मच आँवला का रस, नींबू का रस और शहद मिलाएं। कम से कम तीन से चार महीने तक सुबह को एक खाली पेट पीना भूख न लगने की कमी को दूर करता है ।
  • अगर आप आँवला पाउडर का इस्तेमाल करते हैं, तो एक कप पानी में एक बड़ा चमचा आँवला पाउडर डाल कर रात भर रखें । सुबह में, नींबू के रस के दो चम्मच और थोड़ी काली मिर्च इसमें डाल दें। कुछ महीनों के लिए एक खाली पेट पर इसे नियमित रूप से पिए। यह एक बहुत ही लाभकारी bhukh lagne ke gharelu nuskha है।
  • आप इस आँवला को ताज़ा फल या अचार के रूप में भी ले सकते हैं।

2. अदरक

अदरक इंसान के शरीर के पाचन तंत्र को ठीक करने, खाना पचाने औरभूख लगने (Bhukh Lagne) मे मदद करने के लिए बहुत ही उत्कृष्ट है। इसके अलावा, अदरक पेट दर्द को कम करने के लिए भी लाभकारी है।

  • एक-चौथाई से आधे चम्मच बारीक कटा हुआ अदरक लें और इसमे सेंधा नमक की एक चुटकी डाल दीजिये। आठ से 10 दिनों तक हर दिन भोजन से आधा घंटा पहले लें। भूख लगने (Bhukh Lagne) में बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है।
  • अदरक का एक टुकड़ा लीजिये और इसे पीस कर चाय बनाकर पीये। आप इसे एक दिन में कई बार पी सकते हैं।

3. काली मिर्च

काली मिर्च अक्सर पाचन सुधारने, भूख बढ़ाने और जठरांत्र संबंधी समस्याओं का इलाज करने के लिए आयुर्वेदिक (Ayurvedic) उपचार के रूप में प्रयोग किया जाता है। यह आपको पेट और आंत्र गैस से भी राहत देता है।

असल में, काली मिर्च आपके जीभ के स्वाद को उत्तेजित करता है, जो बदले में पेट में हाइड्रोक्लोरिक एसिड (hydrochloric acid) को बढ़ता है, जिससे पाचन तंत्र में सुधार होता है।

  • गूढ़ का एक बड़ा चमचा मे काली मिर्च का एक आधा चम्मच मिलाएं।
  • इसे कुछ दिनों के लिए नियमित रूप से सेवन करें।

यदि आपको अल्सर है तो इसका सेवन मत करे।

4. इलायची

छोटी इलाइची (Cardamom), पाचन टॉनिक के रूप में काम करती है। छोटी इलाइची (Cardamom) खाना न पचने पर , गैस की शिकायत होने पर, भूख लगने (Bhukh Lagne) मे मदद करने के लिए अच्छा है। छोटी इलाइची (Cardamom) का लाभ उठाने के लिए बस अपने नियमित चाय में छोटी इलाइची (Cardamom) का प्रयोग करे।

5. अजवाइन

Carom Seeds, जिसे अजवाइन भी कहा जाता है, पाचन तंत्र के लिए अच्छा है। अजवाइन खाना पचाने और भूख बढ़ाने में मदद करते हैं और खाना न पचने और पेट फूलना जैसी समस्याओं का भी इलाज करता हैं।

  • भोजन से आधा घंटे पहले अजवाइन का आधा चम्मच का सेवन कीजिये मीन्स चबाइये ।
  • नींबू के रस में अजवाइन के तीन बड़े चम्मच डालें। इस मिश्रण को पूरी तरह से सूखने दे फिर, थोड़ा सा काले नमक इसमें मिलाएं। कुछ दिनों के लिए दो बार रोजाना गर्म पानी के साथ इस मिश्रण का एक चम्मच लें ।

6. सिंहपर्णी औषधि

सिंहपर्णी औषधि (Dandelion Root) पाचन शक्ति को बढ़ावा देने और भूख लगने (Bhukh Lagne) मे मदद करने के लिए जाना जाता है। यह लीवर की समस्याओं का इलाज भी करता है।

  • लगभग पांच मिनट के लिए एक कप पानी में सिंहपर्णी औषधि (Dandelion Root) उबलते हुए चाय तैयार करें। आप इसमें दालचीनी भी डाल सकते हैं
  • आप स्वाद के लिए इसमें शहद भी डाल सकते है।
  • सिंहपर्णी औषधि (Dandelion Root) आप Food स्टोर से खरीद सकते हैं। इन्हे साफ़ कर के छोटे टुकड़ों में काट कर लीजिये। ओवन (Oven) में दो घंटे के लिए 250 डिग्री पर सेंकना दीजिये ।

इस सिंहपर्णी औषधि (Dandelion Root) का उपयोग करने से पहले, अपने चिकित्सक (Doctor) से इसकी सही उपयोग मात्रा निर्धारण करें और यह सुनिश्चित करें कि सिंहपर्णी औषधि (Dandelion Root) के साथ किसी भी अन्य दवाओं का सेवन न करे ।

7 . लहसुन

भूख न लगने के इलाज के लिए लहसुन बहुत ही ज्यादा प्रभावी उपाय माना जाता है क्योंकि यह पाचन तंत्र को तेज करता है

  • एक कप पानी में तीन से चार लहसुन उबालें।
  • आधा नींबू में रस को इसमें निचोड़ लें।
  • जब तक आपको सुधार न दिखाई दे, तब तक रोजाना इसे दो बार इसे पीते रहे।

8. धनिया

धनिया का रस आपकी भूख न लगने के इलाज के लिए फायदेमंद है क्योंकि यह पेट में गैस की सभी समसयाओ को दूर करने में सहायक होता है। यह अपच, गैस और अन्य ऐसी बीमारियों से राहत के लिए भी अच्छा है।

  • धनिया के पत्तों से रस निकालें
  • भूख के बढ़ने तक रोजाना धनिया के पत्तों के रस का एक-दो चम्मच पीजिये । आप थोड़ा नींबू का रस और नमक का एक चुटकी भी इसमें डाल सकते हैं।

9. इमली

इमली भूख न लगने के इलाज में मदद करता है। हालांकि, उस प्रकार के इमली से बचें जिन्हें मालाबार कहा जाता है, जो भूख को दबाने के लिए इस्तमाल की जाती हैं

  • नरम पानी में इमली पल्प, चीनी, थोड़ा काली मिर्च, दालचीनी और लौंग डालिए ।
  • जब तक हालत में सुधार न हो, तब तक इसे नियमित रूप से पियो।

10. अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका)

अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका) एक महान भूख पैदा करने वाला और प्राकृतिक रक्त और लिवर साफ़ करने के रूप में काम करता है। यह गुर्दा की समस्याओं से निपटने वालों के लिए भी अच्छा है। अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका), संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। यह विटामिन ए, बी, सी, डी, और विटामिन के रूप में, साथ ही कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, फास्फोरस, लोहा, जस्ता, फोलिक एसिड, और अन्य पोषक तत्वों में समृद्ध है।

  • अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका) चाय, जिसे सूखे अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका) के एक चम्मच को 10 से 15 मिनट के लिए गर्म पानी के कप में उबाल कर तैयार किया जाता है।
  • आप अपने भोजन में अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका) के बीजों का भी इस्तमाल कर सकते हैं

इस अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका) जड़ी बूटी का अधिक सेवन भी न करें। इस अल्‍फा-अल्‍फा (रिजका) जड़ी बूटी को इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक (Doctor) से परामर्श करना सबसे अच्छा है।

इन घरेलू उपचार के अलावा, कुछ सरल लेकिन प्रभावी उपाय आपकी भूख को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं जैसे छोटे मात्रा में लेकिन लगातार भोजन लेना, अपने पसंदीदा भोजन खाद्य पदार्थों का सेवन करना और मध्यम शारीरिक व्यायामो का नियमित रूप से करना। यदि फिर भी भूख की समस्या बनी रहती है, तो उचित उपचार के लिए अपने चिकित्सक (Doctor) से परामर्श करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Big Boss is Watching !!